Editor’s Desk

ये है भक्तियोग का जमाना !

IIकिशोर कुमारII अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस हाल ही मनाया गया। हम सबने देखा कि कसरती स्टाइल के कथित हठयोग की नहीं, बल्कि समग्र योग की स्वीकार्यता दुनिया भर में तेजी से...

read more

मानवता के लिए योग, ख्याल अच्छा है

किशोर कुमार

read more

संत कबीर : मैं कहता आंखन देखी

किशोर कुमार

read more

जेलों में योग की अहमियत

किशोर कुमार आठवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के लिए उल्टी गिनती शुरू है। इस बार का थीम है – योगा फॉर ह्यूमैनिटी। इस थीम के मद्देनजर जेलों के कैदियों पर भी...

read more

योग : अभी लंबी दूरी तय करनी है

किशोर कुमार अब यह तथ्य विज्ञानसम्मत है और सर्वमान्य भी कि हृदयरोग से बचाव में योग की बड़ी भूमिका है। हमें ज्ञात हो चुका है कि तनाव, अवसाद और हृदयाघात...

read more

योग और स्वामी चिन्मयानंद सरस्वती

किशोर कुमार अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस अगले महीने ही है। उसे व्यापक स्तर पर मनाने की तैयारियां जोर-शोर से की जा रही हैं। जोर इस बात पर है कि शरीर को...

read more

योग की शक्ति से बेअसर होगा बुढ़ापे का असर

किशोर कुमार यह निर्विवाद है कि जो आया है सो जाएगा। पर बढ़ती उम्र के साथ शारीरिक या मानसिक समस्याएं कम से कम हो, ऐसी भला किसकी चाहत न होगी।...

read more

आज्ञा-चक्र के जागरण का कमाल!

किशोर कुमार आधुनिक युग में योग की स्वीकार्यता बढ़ने के साथ ही योग की इस मान्यता को भी स्वीकार किया जाने लगा है कि मनुष्य मात्र शरीर ही नहीं है,...

read more

“हरे कृष्ण हरे राम” मंत्र की शक्ति, आक्रमणों से कहां दबती

किशोर कुमार एसी भक्तिवेदांत स्वामी प्रभुपाद के श्रीकृष्ण भावनामृत अभियान और इंटरनेशनल सोसाइटी फॉर कृष्णा कॉन्शियसनेस (इस्कॉन) पर दुनिया के किसी भी कोने में जब-जब हमले हुए, इस्कॉन की शक्ति...

read more

हृदय रोग से मुक्त रखता है उष्ट्रासन

किशोर कुमार इस बार बात उष्ट्रासन की। हम जानते हैं कि योगासन कमर-तोड़ मेहनत या कसरत नहीं, बल्कि प्राण-शक्ति के उचित वहन और अभिसरण के साथ सात्विक कर्म की तरह...

read more

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस : विषमताओं से मुक्ति का आधार है योग-मार्ग

किशोर कुमार अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस की शुभकामनाएं। इस साल इस दिवस का थीम है – ब्रेक द बायस। यानी समाजिक विषमताओं और पूर्वाग्रहों के कुप्रभावों से मुक्त होने का संकल्प।...

read more

महाशिवरात्रि के आध्यात्मिक आयाम

किशोर कुमार पृथ्वी के किसी न किसी भू-भाग पर परमाणु संपन्न शक्तियां आमने-सामने हो जाती हैं और मानवता पर खतरा मंडराने लगता है। ऐसे में जरा सोचिए कि वह कौन-सी...

read more
Editor’s Desk