Editor’s Desk

योग की स्वीकार्यता और कमजोर होती मजहब की दीवारें

किशोर कुमार आजादी की 75वीं वर्षगांठ को आजादी के अमृत महोत्सव के तौर पर मनाते हुए सूर्य नमस्कार की अहमियत को भी समझा जाना देश के उज्जवल भविष्य के लिए...

read more

योग साधाना और श्रद्धा

किशोर कुमार अमेरिका के हार्वर्ड विश्वविद्यालय ने अपने एक शोध-पत्र में खुलासा किया है कि कोरोनाकाल में कोविड-19 के संक्रमण के मामलों को छोड़ दें तो चिकित्सकों के पास पहुंचने...

read more

प्राणायाम, योगनिद्रा की शक्ति भूले नहीं

किशोर कुमार अलविदा 2021 – कोरोना महामारी से निबटने में दुनिया भर में योग की महती भूमिका रही। योगाचार्य हो या योग प्रशिक्षक, सबने कोरोना वारियर्स की तरह लोगों को...

read more

योगनिद्रा और स्वामी सत्यानंद सरस्वती

किशोर कुमार चार दिनों बाद ही यानी 24 दिसंबर को बीसवीं सदी के महानतम संत परमहसं स्वामी सत्यानंद सरस्वती की 98वी जयंती है। योग को आधुनिक विज्ञान की कसौटी पर...

read more

नई सदी के योगधर्म की राह दिखता सत्यानंद योग

बिहार योग विद्यालय उस सुगंधित पुष्प की तरह है, जिसकी खुशबू सर्वत्र फैल रही है। उसकी विलक्षणताओं की वजह से इंग्लैंड सहित यूरोप और अमेरिका के कई शहरों से प्रकाशित...

read more

मुद्रा योग का असर ऐसा कि छा गए थे आयंगार

किशोर कुमार यौगिक और आध्यात्मिक विषयों को लेकर अलग कुछ जानने की उत्सुकता बड़े-बुजुर्गों में तो होती ही है। पर ऐसे ही सवाल किशोर वय के लड़के-लड़कियां करने लगें तो...

read more

छठ, योग और वैदिक सूर्योपासना

लोक आस्था का महापर्व छठ और बिहार का क्या संबंध है? सूर्य नमस्कार योग विधि कहां से आ गई? सूर्योपासना से जुड़े इस तरह के सवाल युवापीढ़ी के जेहन में...

read more

मंत्रयोग की शक्ति, अवसाद से मुक्ति

कलियुग के लिए मंत्र और संकीर्त्तन लाभकारी किशोर कुमार बात मंत्र योग की। कोरोनाकाल के दौरान आधुनिक योग के वैज्ञानिक संत परमहंस स्वामी निरंजनानंद सरस्वती ने योग साधकों को सलाह...

read more

योग को लाभकारी बनाने में रोल मॉडल बने सरकार

किशोर कुमार यह सच है कि भौतिक युग में जो विद्या लाभकारी नहीं होती, उसके बचे रहने की संभावना धूमिल होती जाती है। इसलिए योग लाभकारी पेशा बना रहे और...

read more

नवरात्रि

शक्ति की आराधना और मंत्रयोग किशोर कुमार नवरात्रि और दुर्गापूजा का समय है। इसलिए इस बार आदि शक्ति माता की आकृति, प्रकृति और गुणों के आलोक में मंत्र-योग की बात।...

read more

बुद्धि सब कुछ नहीं, भावना प्रमुख है

परमहंस स्वामी निरंजनानंद सरस्वती मनुष्य के जीवन में बुद्धि ही सब कुछ नहीं है। मानव जीवन में बुद्धि का अस्तित्व ज्ञान अर्जन के लिए है, निर्णय लेने के लिए है।...

read more

नींद निशानी मौत की, उठ कबीरा जाग…

भूल जाने की बीमारी हमारे जीवन की आम परिघटना है। पर लंबे समय में विविध लक्षणों के साथ यह लाइलाज अल्जाइमर और अनियंत्रित होकर डिमेंसिया में भी बदल जाती हो...

read more
Editor’s Desk